पहला पन्ना / खबरें / गतिविधियाँ / कथा-कहानी / टांगराईन में ‘कहानी मेला’ का उद्घाटन, कथा-कहानी-साहित्य की चर्चा चारों ओर

 

पहले दिन प्रख्यात कथाकारों, रंगकर्मियों ने बच्चों को कहानियाँ सुनायीं, जिंदगी में सफलता के राज बताये

टांगराईन, पोटका (जमशेदपुर), जनवरी 6, 2018: शहर से 46 किलोमीटर की दूरी पर अवस्थित पोटका प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय, टांगराईन में आज शहर के ख्यातिप्राप्त साहित्यकार व रंगकर्मी ‘कहानी मेला’ के उद्घाटन समारोह में पहुँचे। वरिष्ठ साहित्यकार सी भास्कर राव, युवा ज्ञानपीठ पुरस्कार विजेता जयनंदन, साहित्य समीक्षक श्रीमती विजय शर्मा एवं रंगकर्मी अवतार सिंह ने संयुक्त रूप से दीप जलाकर ‘कहानी मेला’ का उद्घाटन किया।

टांगराईन स्कूल में कहानी मेला का उद्घाटन।
टांगराईन स्कूल में कहानी मेला का उद्घाटन।

इस मौके पर श्री सी भास्कर राव ने कहा कि यह एक अनूठा आयोजन है। इससे बच्चों के सर्वांगीण विकास में मदद मिलेगी। उन्होंने एक कहानी के माध्यम से बताया कि शिक्षक के लिए सिर्फ पढ़ाना ही जरूरी नहीं होता है, बल्कि माता-पिता की तरह बच्चों के सर्वांगीण विकास पर ध्यान देना भी जरूरी होता है। उन्होंने कहा कि इतने सुदूर इलाके में बच्चों को विद्यालय की ओर से हर सुविधा उपलब्ध कराना काबिलेतारीफ है।

युवा ज्ञानपीठ पुरस्कार विजेता जयनंदन ने बच्चों से कहा – खूब पढ़ो। उन्होंने कहा कि पढ़ाई ही एकमात्र माध्यम है, जो आपको तरक्की के रास्ते पर ले जाएगा।

उन्होंने बच्चों को कहानी लिखने के टिप्स देते हुए कहा कि आप आसपास घटित होनेवाली घटनाओं को और अपनी भावनाओं को लिखकर शिक्षकों को दिखायें।

उन्होंने कहा कि विद्यालय में जिस तरह की गतिविधियाँ संचालित हो रही हैं इससे साबित होता है कि किसी भी तरह से यह विद्यालय किसी भी निजी विद्यालय से पीछे नहीं है।

साहित्यकार एवं समीक्षक विजय शर्मा ने भी इस अनूठे आयोजन की प्रशंसा करते हुए कहा कि इससे बच्चों में सृजनात्मक एवं भाषायी दक्षता बढ़ेगी। उन्होंने भी बच्चों को कहानी सुनायी।

कहानी मेला का पहला दिन।
कहानी मेला का पहला दिन।

रंगकर्मी अवतार सिंह ने कहा कि शहर से दूर इस तरह का आयोजन दुर्लभ है। बच्चों में सृजनात्मक क्षमता के विकास के लिए यह आयोजन काफी मददगार साबित होगा। उन्होंने सम्पूर्ण व्यक्तित्व के विकास के लिए रंगकर्म को जरूरी बताया।

उद्घाटन समारोह के बाद अलग-अलग सत्रों में रंगकर्मी संजय भारती, रविकांत मिश्रा, विजय शर्मा एवं मैन सिंह सरदार ने कहानी सुनायी और बच्चों से भी कहानियाँ सुनीं।

कहानी मेला- पहला दिन

कार्यक्रम का संचालन विद्यालय के प्रधानाध्यापक अरविंद तिवारी ने किया।

उद्घाटन समारोह को विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष सुराई माँझी, सेवानिवृत्त शिक्षक जयहरि सिंह मुंडा, पूर्व मुखिया राजाराम मुंडा, ग्राम प्रधान मंगल पान, वार्ड मेंबर भोगला माँजी, सीतारानी मुर्मु,विश्वजीत सरदार, अमल कुमार दीक्षित, उज्ज्वल मंडल एवं सनत मंडल आदि ने भी संबोधित किया।

कहानी मेला कल रविवार एवं सोमवार को भी जारी रहेगा। इन दो दिनों के दौरान भी कथा वाचन एवं कथा श्रवण से संबंधित कई सारी गतिविधियाँ आयोजित की जाएँगी।

कहानी मेला – दिन 1 की तस्वीरें – सारी तस्वीरें उत्तम आचार्जी द्वारा सृजित हैं

 
 
 
%d bloggers like this: