पहला पन्ना / खबरें / धानी मांझी ने एक कट्ठा जमीन टांगराईन विद्यालय को दी दान, ग्रामीणों ने खरीदी जमीन

 

टांगराईन, पोटका (जमशेदपुर): उत्क्रमित मध्य विद्यालय, टांगराईन के विस्तार के लिए जोजोडीह निवासी श्रीमती धानी माँझी ने एक कट्ठा 16 धुर जमीन दान में दे दी है तथा बाकी बची तीन कट्ठा जमीन ग्रामीणों ने खरीद ली है।

उत्क्रमित मध्य विद्यालय, टांगराईन को सर्वश्रेष्ठ विद्यालय बनाने के संकल्प के साथ ग्रामीणों की एक आम सभा आज विद्यालय प्राँगण में हुई।

धानी मांझी टांगराइन स्कूल को जमीन दान में दे रही हैं।
धानी मांझी टांगराइन स्कूल को जमीन दान में दे रही हैं।

सभा में ग्रामीणों ने रोड तक स्कूल विस्तार के लिए जमीन खरीदने पर विचार-विमर्श किया। श्रीमती धानी माँझी की चार कट्ठा 16 धुर जमीन को खरीदने पर चर्चा हुई, जिसमें एक कट्ठा 16 धुर जमीन श्रीमती धआनी माँझी ने स्वतः दान में देने की घोषणा की। बाकी बची तीन कट्ठा जमीन को पच्चीस हजार रुपये में खरीदने के निर्णय पर सहमति बनी, जिसे ग्रामीणों ने शीघ्र ही आपसी सहयोग से जमा कर देने का निर्णय लिया। इसी सभी में विद्यालय में भाषा संसाधन केन्द्र के उद्घाटन समारोह को सफल बनाने की रणनीति भी बनायी गयी।

यह निर्णय लिया गया कि संथाली, भूमिज व बांग्ला भाषा के लोग अपनी-अपनी संस्कृति के अनुरूप पारंपरिक तरीके से सांसद एवं अन्य अतिथियों का स्वागत करेंगे।

मालूम हो कि इसके पहले भी विद्यालय विस्तार के लिए छह कट्ठा जमीन समाजसेवी सुशांत मंडल ने खरीदकर विद्यालय को दान में दी थी।

स्कूल के विकास में अहम योगदान करनेवाले टांगराइन ग्राम के सुधी ग्रामीण।

सभा में विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष सुराई माँझी, विद्यालय विकास समिति के अधअयक्ष सिंगराई माँझी, पूर्व मुखिया राजाराम मुंडा, ग्राम प्रधान मंगल पान, उजझवल मंडल, जय हरि सिंह मुंडा, सिदिरसाई हाल्ट निर्माण समिति के अध्यक्ष रामेश्वर पात्रो, शिवशंकर सरदार, तारणी सेन माँझी, प्रण कृष्ण मार्डी, जयराम मुंडा, जीतेन्द्र सर्दार, कालीचरण भगत, प्रसन्न सरदार, सुबल दास, नागेश्वर सरदार, शिवशंकर सरदार, सीतानाथ पात्रो, जयकान माँझी, लखी हेम्ब्रम, श्रीमती सारथी सरदार, पिंकी सरदार, शकुंतला कर्मकार, शकीला मांझी, मोहन लाल सरदार आदि उपस्थित थे। धन्यवाद ज्ञापन विद्यालय के प्रधानाध्यापक अरबिंद तिवारी ने किया।

 
 
 
%d bloggers like this: